चिराग योजना: क्या है, और कैसे ले इसका फायदा?

चिराग योजना: क्या है? जैसे कि आप सब जानते हो कि हरियाणा सरकार अपने राज्य में रह रहे नागरिकों के लिए कई प्रकार की योजना लाते रही है, आज हम ऐसी ही योजना जो शिक्षा के क्षेत्र से जुड़ी हुई है जिसका नाम चिराग योजना है।

इससे संबंधित सभी जानकारी आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे। प्रदेश में ऐसे कई अभिभावक है जिनकी इच्छा होती है कि वह अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूल में पढ़ाई करवाए। लेकिन उनके पास पैसे की कमी होने के कारण उनका यह सपना अधूरा रह जाता है इसलिए हरियाणा सरकार की शिक्षा मंत्री ने चिराग योजना हरियाणा के माध्यम से सरकारी स्कूल के बच्चों को प्राइड स्कूल में फ्री में पढ़ाई जाने की योजना है।

जिससे कि इन बच्चों को प्राइवेट स्कूल में भी भर्ती होकर अच्छी शिक्षा मिल सकेगी जो कि अदर राज्य में चल रही आरती योजना के समान ही है।

चिराग योजना क्या है?

चिराग योजना क्या है? (Chirag Yojana Kya Hai)

हरियाणा राज्य में ऐसे कई परिवार है जो आर्थिक रूप से सक्षम ना हो पाने के कारण वह अपने बच्चों की स्कूली शिक्षा सरकारी स्कूल में ही करवा पाती है। लेकिन ऐसे परिवार के लिए हरियाणा सरकार ने चिराग योजना को लेकर आई है।

चिराग योजना के माध्यम से समस्त हरियाणा के बच्चे प्राइड स्कूल में अच्छी मात्रा में भर्ती होकर अपनी स्कूली शिक्षा मुफ्त में प्राप्त कर सकेंगे। चिराग योजना से जुड़ी जानकारी के लिए इस पोस्ट को पढ़ना जारी रखें।

चिराग योजना का शुभारंभ

चिराग योजना को समस्त पूरे हरियाणा राज्य में 1 जून से 1 जुलाई तक सभी राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के बच्चों को प्राइवेट स्कूल में दाखिले दिलाना के लिए इस योजना को शुरू किया जा रहा है।

चिराग योजना की जानकारी (Yojana Highlights)

योजना का नाम चिराग योजना (Chirag Yojana)
राज्यहरियाणा
मंत्रालयशिक्षा मंत्रालय
उद्देश्यप्राइड स्कूल में फ्री में पढ़ाई
लाभार्थीगरीब छात्र
लांच डेटजुलाई 2022

चिराग योजना के फायदे (Benifits)

चिराग योजना के माध्यम से कई प्रकार के फायदे छात्रों को मिलेंगे इसकी जानकारी नीचे पॉइंट्स के माध्यम से हम बता रहे।

  1. सबसे पहले गरीब आरती परिवार के बच्चों को निजी स्कूलों में मुफ्त में शिक्षा मिल पाएगी।
  2. आर्थिक रूप से कमजोर समाज के तबके के लोगो का मनोबल और आत्मनिर्भर विश्वास बढ़ेगा।
  3. निजी स्कूल से बच्चों के शिक्षा का हिस्सर बेहतर बन सकेगा।
  4. अच्छी शिक्षा मिल पाने से उनके जीवन में कई प्रकार के सकारात्मक बदलाव आएंगे।
  5. इसे अभिभावक जो अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूल में पढ़ाने की इच्छा रखते हैं उनकी इच्छा पूर्ण हो सकेगी।
  6. और हरियाणा राज्य में स्कूली व्यवस्था को सुधार पाने में एक मुख्य भूमिका हो पाएगी।

चिराग योजना के उद्देश्य (Objective)

हमारे हरियाणा राज्य में ऐसे कई गरीब परिवार है जो आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण वह कभी भी अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूल में भर्ती नहीं करवा पाते हैं क्योंकि प्राइवेट स्कूल में स्कूल की फीस काफी ज्यादा अधिक होती है।

इसी समस्या को देखते हुए हरियाणा राज्य के शिक्षा मंत्रालय के द्वारा ऐसे बच्चों को प्राइवेट स्कूल में मुफ्त में शिक्षा प्राप्त करवाने के उद्देश्य से चिराग योजना को शुरू किया गया है जिससे कि छात्रों को प्राइवेट स्कूलों में अच्छी से अच्छी शिक्षा मिल सके।

चिराग योजना की मुख्य विशेषताये (Main key Features)

योजना की तो वैसे कई सारी मुख्य विशेषता है लेकिन हम आपको कुछ खास खास विशेषताएं बता रहे जिसे जानकर आप चिराग योजना के बारे में अच्छी तरीके से जानकारी हासिल कर सकोगे।

  • हरियाणा राज्य में स्कूल शिक्षा स्तर बेहतर हो पाएगा।
  • आर्थिक रूप से वंचित परिवारों को इसका लाभ मिल सकेगा।
  • जो बच्चे प्राइड स्कूल में पढ़ने की इच्छा रखते हैं उनकी इच्छा भी पूर्ण हो सकेगी।
  • प्राइड स्कूल में दाखिला मिलने से वह सीबीएसई पैटर्न की शिक्षा को हासिल कर सकेंगे।
  • अच्छी और बेहतर शिक्षा मिल पाने से वह अपने जीवन में अच्छी तरक्की कर पाने में समर्थ बन सकेंगे।

चिरागयोजना की पात्रता एवं मानदंड (Criteria & Eligibility)

अगर आप जानना चाहते हो कि चिराग योजना के माध्यम से किस परिवारों के छात्रों को इसका लाभ मिलेगा तो इसके लिए सरकार के माध्यम से कुछ पात्रता और मानदंड बनाए हैं, इन पात्रता के अंतर्गत आने पर ही बच्चों को इस योजना के अंतर्गत दाखिला दिया जाएगा।

  • स्कूल में दाखिला पाने वाले छात्र का हरियाणा राज्य का निवासी होना अनिवार्य है।
  • छात्र के परिवार की ओर से आय ₹1,80,000 से कम होना चाहिए इससे अधिक नहीं होना चाहिए।
  • चिराग योजना के माध्यम से प्राइवेट स्कूल में दाखिला देने से पहले छात्रों को ऑनलाइन आवेदन करना अनिवार्य रहेगा।
  • राज्य की इस योजना के माध्यम से दूसरी कक्षा से लेकर बारहवीं कक्षा तक निजी स्कूल में भाग लिया जा सकेगा।
  • इसमें एलकेजी से लेकर नर्सरी तक के बच्चों को इस योजना का फायदा नहीं मिलेगा।
  • और ऐसे परिवार जो आर्थिक रूप से सक्षम है उन्हें इसी योजना के पात्र नहीं माना जाएगा।
  • कोई भी आयकर करदाता परिवार इस योजना का पात्रधारी नहीं होगा।
  • और शासकीय सेवा में कार्यरत परिवार को भी योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

चिराग योजना के अंतर्गत कितने विद्यार्थियों का दाखिला मिलेगा?

चिराग योजना के माध्यम से कक्षा 2 से लेकर कक्षा बारहवीं तक के छात्रों को इस योजना के अंतर्गत दाखिला दिया जाएगा वह इनमें सरकार ने छात्रों के लिए कितना कोटा बनाया है इसकी जानकारी कुछ इस प्रकार से हमारे द्वारा दर्शाई गई है।

  • कक्षा दूसरी में दाखिला लेने वाले छात्रों की संख्या 2370 रखी गई है।
  • तीसरी कक्षा के छात्रों की संख्या 2411
  • चौथी कक्षा में दाखिला लेने वाले छात्रों की संख्या 2443 के समक्ष
  • पांचवी कक्षा में भर्ती होने वाले छात्रों की संख्या 2383
  • छठी से के लिए 2413
  • सातवीं के लिए 2400
  • आठवीं के लिए 2383
  • नौवीं कक्षा के लिए 2221
  • दसवीं कक्षा के लिए 2174
  • 11वीं के लिए 1858
  • बारहवीं कक्षा के लिए 1009

सीट को सरकार द्वारा आरक्षित किया गया है। कुल मिलाकर इस योजना के अंतर्गत 24986 सीटों को सरकार के द्वारा आरक्षित किया गया है। इन सीटों पर सभी विद्यार्थियों का चयन हरियाणा चिराग योजना के अंतर्गत ऑनलाइन फॉर्म भरने के बाद ही किया जाएगा।

आवश्यक दस्तावेज (Require Document)

चिराग योजना के अंतर्गत आवेदन करने से पहले उस छात्री के पास निम्न प्रकार के दस्तावेजों का होना अत्यंत आवश्यक है वह कौन से दस्तावेज है नीचे हम आपको बता रहे हैं।

  • आवेदन करने वाले छात्रों के पास TC सर्टिफिकेट होना जरूरी है।
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • जन्म प्रमाण पत्र।
  • जाति प्रमाण पत्र।
  • आधार कार्ड पत्र।
  • राशन कार्ड यदि हो तो।
  • और मोबाइल नंबर आदि।

चिराग योजना में आवेदन की प्रक्रिया (Registration Process)

योजना के माध्यम से अपने बच्चों का स्कूल में दाखिला करवाना चाहते हो तो चिराग योजना के अंतर्गत किसी भी स्कूल में प्रवेश कैसे मिलता ही प्रक्रिया जानने के लिए नीचे बताई गई प्रोसेस को फॉलो करें।

  • पहले आपको सारे दस्तावेजों को लेकर ऑनलाइन सीएससी सेंटर पर जाना होगा।
  • यहां आपको चिराग योजना में आवेदन करने के लिए अप्लाई करना होगा।
  • जहाँ आपको ऑनलाइन माध्यम से फॉर्म भरा जाएगा और सारे आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड किया जाएगा।
  • और कुछ मामूली सा शुल्क देकर आप चिराग योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकोगे।
  • और सरकार के द्वारा कुछ समय बाद चयनित किए गए छात्रों की फाइनल सूची जारी कर दी जाएगी।
  • जिससे कि परिवार के छात्र प्राइवेट स्कूल में अपने शिक्षा कर पाएंगे।

चिराग योजना से जुड़े सवाल-जवाब

Q.1 चिराग योजना किस राज्य की योजना है?

Ans: यह योजना हरियाणा राज्य के अंतर्गत आने वाली योजना है।

Q.2 क्या चिराग योजना के अंतर्गत बाहरी राज्य के छात्र भी इस स्कीम योजना में सम्मिलित हो सकते हैं?

Ans: बिल्कुल नहीं यह सिर्फ हरियाणा राज्य के छात्रों को भी दिया जाएगा।

Q.3 इस योजना को कब शुरू किया गया है?

Ans: चिराग योजना को जून-जुलाई से शुरू किया गया है।

Q.4 क्या सरकारी स्कूल में पढ़ रहे विद्यार्थी भी प्राइवेट स्कूल में दाखिला ले सकेंगे?

Ans: बिल्कुल ऐसे समस्त विद्यार्थी जो सरकारी स्कूल में पढ़ते हैं वह इस योजना के माध्यम से पात्रता होने पर इस योजना में दाखिला ले सकेंगे।

Q.5 चिराग योजना का लाभ लेने के लिए हमें क्या करना पड़ेगा?

Ans: इसके लिए सबसे पहले आपको ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से इसमें आवेदन करना पड़ेगा।

Q.6 हरियाणा चिराग योजना को किसने लागू किया ?

शिक्षा मंत्री के द्वारा।

निष्कर्ष (Conclusion)

अब आप इस पोस्ट को पूरा पढ़कर चिराग योजना क्या है इसके लाभ किसे मिलेंगे चिराग योजना से जुड़ी सभी जानकारी आपको हमने इस आर्टिकल के माध्यम से उपलब्ध करवा दी है।

अगर आपको अभी भी Chiriag Yojana होता से संबंधित किसी प्रकार के सवाल है, तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें।

और ऐसी ही नई-नई योजनाओं की जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारी वेबसाइट Pmmodischeme.com को फॉलो करें हमारा उद्देश्य यही कि आपको योजना से संबंधित सारी जानकारी आप तक जल्द से जल्द पहुंचाना है।

हेलो दोस्तों! में Mayur, [Pmmodischeme.com] का Author & Founder हूँ। में Computer Science (C.s) से ग्रेजुएट हूँ। मुझे इंडियन गवर्नमेंट के योजनाओ के बारे में जानकारी देना अच्छा लगता है। और में Blogging क्षेत्र में वर्ष 2018 से हूँ। इस ब्लॉग के माध्यम से आप सभी को सभी योजनाओ के बारे में जानकारी उपलब्ध कराना यही मेरा उद्देश्य है।

Leave a Comment