(25 लाख) दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना राजस्थान की जानकारी? 2023

दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना: नमस्कार दोस्तों राजस्थान सरकार अपने राज्य में रह रहे दलित आदिवासियों के कल्याण के लिए कई प्रकार की योजना लाते रही है अभी हाल ही में बजट सत्र के दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इन नागरिकों के लिए एक कल्याणकारी मुख्यमंत्री दलित आदावासी उद्यम प्रोत्साहन योजना को शुरू करने की घोषणा की है I

इस योजना के माध्यम से ऐसे समस्त दलित और आदावासी युवा जो अपने स्वयं का कारोबार करने में असफल रहते हैं उन्हें इस योजना के माध्यम से लोन के माध्यम से अपना खुद का व्यापार को शुरू कर सकने में समर्थ हो सकेंगे I

जिसके लिए सरकार ने ₹25 lakh तक की सहायता राशि के रूप में प्रदान करेगी इस लेख में वह आपको राजस्थान दलित आदिवासी उत्थान योजना से संबंधित सभी जरूरी जानकारी जानने को मिलेगी कृपया इस लेख को पूरा पड़े ।

दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना राजस्थान

राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना क्या है ?

राजस्थान राज्य में ऐसे कई युवा है जो अपने खुद के व्यापार को शुरू करने की काबिलियत रखते हैं लेकिन उन्हें धन की कमी होने के कारण वह अपने बिजनेस शुरू करने में असफल रहते हैं ऐसे समस्त वर्ग के युवा और नागरिकों को राजस्थान सरकार ने आगे बढ़ाने के उद्देश्य से बजट सत्र के दौरान राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना को शुरू करने की प्रस्ताव रखा है I

इस योजना के अंतर्गत ऐसे समस्त युवा जो अपने स्वयं का व्यापार शुरू करना चाहते हैं इसके लिए 100 करोड़ की लागत से एजुकेशन सेंटर खोले जाएंगे और वंचित वर्ग के लोगों को इंडस्ट्री शुरू करने के लिए 2500000 रुपए तक की सब्सिडी मिलेगी और वंचित तबकों को इंडस्ट्री शुरू कर के लिए कई प्रकार की भी सुविधा दी जाएगी।

इन्हें भी पड़े-

योजना का शुभारंभ

अभी हाल ही में राजस्थान सरकार ने अपने वित्तीय बजट को पेश करते वक्त पिछड़े वर्ग के वंचित आदावासी युवाओं को स्वरोजगार प्राप्त करवाने के उद्देश्य से फरवरी 2022 को राजस्थान दलित आदावासी उद्यम प्रोत्साहन योजना को शुरू करने की अधिकारिक घोषणा की है इस योजना के माध्यम से वंचित तबके को इंडस्ट्री शुरू करने के लिए ₹25 लाख तक के ऋण की सहायता सरकार प्रदान करेगी ।

राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना शुरू करने की घोषणा। इसमें 100 करोड़ की लागत से इंक्यूबेशन सेंटर खुलेंगे। वंचित वर्ग के लोगों को इंडस्ट्री शुरू करने के लिए 25 लाख तक सब्सिडी मिलेगी। वंचित तबकों को इंडस्ट्री शुरू करने के लिए कई सुविधाएं दी जाएंगी।

Twitter

दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना की जानकारी (Yojana Highlights)

योजना का नामराजस्थान दलित उद्यम प्रोत्साहन योजना
किसने लांच कीमुख्यमंत्री अशोक गहलोत
योजना का उद्देश्यलोगों को इंडस्ट्री स्टार्ट करने में मदद
लाभार्थीगरीब और वंचित लोग
ऋण राशि 25 लाख रुपये तक
कब शुरू फरवरी 2022
लागत100 करोड़

राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना के फायदे (Benifits)

  • राजस्थान के दलित युवा आदावासी को अपने खुद का व्यापार शुरू करने के लिए सरकार के द्वारा दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना के माध्यम से ऋण की सुविधा दी जाएगी।
  • जो भी नागरिक अपने खुद का व्यापार शुरू करना चाहता है उन्हें सरकार के माध्यम से 2500000 रुपए तक आर्थिक सहायता ऋण के रूप में प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ वंचित वर्ग के लोगों को स्वरोजगार शुरू करने के लिए इसका लाभ प्रदान करवाया जाएगा।
  • राजस्थान सरकार ऐसे समझ से युवा जो अपनी स्वयं की इंडस्ट्री को शुरू करना चाहते हैं सरकार ने आर्थिक रूप से मदद करेगी।
  • प्रदेश के वंचित वर्ग के युवाओं को स्वरोजगार प्रदान करके उन्हें आत्मनिर्भर बनाने में सफलता मिलेगी।
  • राज्य में ऐसे पीछे तबके के लोग समर्थ और सक्षम बन पाएंगे ।

योजना के उद्देश्य (Objective)

राजस्थान में ऐसे कई पिछड़े वर्ग के नागरिक है जो अपने स्वयं का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं लेकिन उनके पास धन की कमी होने के कारण वह अपने खुद के व्यापार को शुरू करने में असमर्थ होते हैं इस समस्या को देखते हुए राजस्थान सरकार ने वित्तीय वर्ष 2023 के दौरान राज्य में दलित आदावासी उद्यम प्रोत्साहन योजना को शुरू करने की घोषणा की है जिसका उद्देश्य राज्य में पिछले तबके के लोगों को स्वरोजगार के माध्यम से आत्मनिर्भर बनाया जा सके।

दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना की मुख्य विशेषताये (Main key Features)

राज्य में रह रहे दलित आदावासी युवाओं को अपने स्वयं के रोजगार के माध्यम से आत्मनिर्भर बनाना और प्रदेश में खुद रोजगार होकर दूसरों को रोजगार के साधन उपलब्ध करवाकर प्रदेश में बेरोजगारी दर को कम करना इस दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना की मुख्य विशेषता जिसे राजस्थान सरकार ने इसे शुरू करने की घोषणा इसी उद्देश्य से की है।

योजना की पात्रता एवं मानदंड (Criteria & Eligibility)

  • दलित आदावासी उद्यम प्रोत्साहन योजना का लाभ लेने के लिए इस योजना में ऐसे लोगों को ही इस योजना की पात्रता मिलेगी जो राजस्थान राज्य के नागरिक हैं।
  • इसमें राजस्थान में केवल पिछले वर्ग के लोग जो दलित और आदावासी श्रेणी के अंतर्गत आते हैं उन्हें इस योजना के अंतर्गत ऋण प्रदान किया जाएगा।
  • सरकार के द्वारा इस योजना के माध्यम से इंडस्ट्री को शुरू करने के लिए सरकार के द्वारा ₹2500000 तक ऋण सब्सिडी के रूप में प्रदान करवाया जाएगा।
  • जो भी नागरिक जिन्होंने पहले कभी अपने व्यापार हेतु ऋण लिया है उसे सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत पात्रता नहीं दी जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज (Require Document)

इस योजना में आवेदन करने से पहले समस्त आवेदकों के पास इन निम्न दस्तावेजों का होना अति आवश्यक है इन दस्तावेजों को होने के बाद ही आप दलित आदावासी उत्तम पोषण योजना में अपना आवेदन दर्ज करा पाओगे I

  • आवेदक का आधार
  • कार्ड पैन कार्ड
  • राजस्थान का स्थाई निवासी प्रमाण पत्र
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • शैक्षणिक योग्यता
  • मोबाइल नंबर
  • जाती का प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक की डिटेल
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ आदि I

दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना में आवेदन की प्रक्रिया (Registration Process)

जैसे आप सब जानती है कि अभी हाल ही में राजस्थान सरकार ने बजट सत्र के दौरान पिछड़े वर्ग के नागरिकों के लिए दलित आदावासी उद्यम प्रोत्साहन योजना को शुरू करने की घोषणा की है I लेकिन इस योजना में आवेदन प्रक्रिया कैसे करें इसके लिए सरकार ने किसी भी प्रकार की गाइडलाइन जारी नहीं की है जैसी सरकार इस योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया जारी करेगी हम आपको इस लेख के माध्यम से समस्त प्रक्रिया से संबंधित जानकारी उपलब्ध करवा देंगे । कृपया इस आर्टिकल के साथ बने रहे जिससे कि आप भी इस योजना के माध्यम से लाभ लेने की पात्रता प्राप्त कर सकोगे।

राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना से जुड़े सवाल-जवाब

Q.1 राजस्थान दलित आदिवासी उद्यम प्रोत्साहन योजना को कब शुरू किया जाएगा?

Ans: जल्द ही इसकी घोषणा की जाएगी I

Q.2 राजस्थान दलित आदावासी उद्यम प्रोत्साहन योजना मैंने फायदा मिलेगा?

Ans: पिछले वर्ग के दलित आदावासी नागरिकों को।

Q.3 क्या दलित आदावासी उद्यम पोषण योजना का लाभ अन्य नागरिक भी ले सकते हैं?

Ans: बिल्कुल नहीं है केवल राजस्थान राज्य में पिछड़े वर्ग के तबके के लिए शुरू की गई योजना है।

Q.4 इस योजना के माध्यम से कुल कितने रुपए तक की सब्सिडी राजस्थान सरकार के द्वारा दी जाएगी?

Ans: सरकार इसके लिए 25 लाख रुपए तक की सब्सिडी प्रदान करेगी।

Q.5 दलित आदावासी प्रोत्साहन योजना में किस पेपर को शुरू करने के लिए सरकार सहायता करेगी?

Ans: इसके लिए जो युवा अपने स्वयं के इंडस्ट्री को शुरू करना चाहते हैं सरकार उनके लिए इस योजना का लाभ प्रदान करेगी।

निष्कर्ष (Conclusion) 

अब आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़कर राजस्थान सरकार के द्वारा शुरू की गई दलित आदावासी उद्यम प्रोत्साहन योजना से संबंधित सभी जरूरी जानकारी आप तक पहुंच गई होगी I अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी है तो अपने मित्रों को अवश्य शेयर करें और इस योजना से संबंधित कोई और भी सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें ।

और ऐसे ही नहीं नहीं होता ओं की जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारी वेबसाइट Pmmodischeme.com को फॉलो करें।

धन्यवाद!

Previous articleप्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (Online List)
Next articleनवीन रोजगार छतरी योजना क्या है? | Navin rojgar chhatri yojana
हेलो दोस्तों! में Mayur, [Pmmodischeme.com] का Author & Founder हूँ। में Computer Science (C.s) से ग्रेजुएट हूँ। मुझे इंडियन गवर्नमेंट के योजनाओ के बारे में जानकारी देना अच्छा लगता है। और में Blogging क्षेत्र में वर्ष 2018 से हूँ। इस ब्लॉग के माध्यम से आप सभी को सभी योजनाओ के बारे में जानकारी उपलब्ध कराना यही मेरा उद्देश्य है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here