(PLI Yojana) उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना 2021 | What is PLI scheme in hindi

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना (PLI): आज की पोस्ट में हम आपको भारत सरकार के द्वारा शुरू की गई प्रोडक्शन लिंक इंसेंटिव योजना (PLI) जिसे पीएलआई योजना भी कहते हैं I इसे लागू करने की मंजूरी दे दी गई है I

इस योजना के अंतर्गत 10 प्रमुख क्षेत्रों में उत्पादन को आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने इस योजना को शुरू किया गया है I जिसे उत्पदान आधारित प्रोत्साहन योजना या पीएलआई योजना भी कहा जाता है I

इस योजना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने मेक इन इंडिया के नाम से एक अभियान लागू किया गया है, जो कि आत्मनिर्भर भारत के लिए एक महतवपूर्ण मिशन के अंतर्गत इस योजना को शुरू किया गया है I

आज हम उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना से जुड़े सभी आवश्यक जानकारी जैसे- इसके लाभ, उद्देश्य, पात्रता, उत्पादन के क्षेत्र आदि प्रकार की सभी जानकारी हम इस पोस्ट के माध्यम से जानने को मिलेगी I

कृपया इस पोस्ट को पूरा अंत तक पढ़े हैं जिससे कि आप पीएलआई योजना से जुड़ी सभी जानकारी आप तक पहुँच पाएगी I

(PLI Scheme) उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना क्या है ? (PLI yojana kya hai)

जैसे कि आप सब जानते हो कि हमारा देश आत्मनिर्भर बनने के लिए कई सारी योजनाओं को लाते रहा है, जिसमें कई प्रकार की उत्पादन क्षेत्रों को लाभ मिलता रहा है I देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना को शुरू करने की मंजूरी दे दी गई है I

जिससे कि भारत की विनिर्माण क्षमता और निर्यात को बेहतर बनाने के लिए प्रमुख क्षेत्रों में प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव योजना (PLI Yojana) को बढ़ावा दिया जाएगा I

(PLI Yojana) उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना

इससे पहले सरकार ने केंद्र हिसार के द्वारा शुरू की गई प्रोडक्शन लिविंग इंसेंटिव योजना के अंतर्गत सरकार के द्वारा कुल 10 प्रमुख क्षेत्रों को इस योजना के अंतर्गत शामिल किए गए हैं इस योजना का बजट सरकार के द्वारा कुल 2 लाख करोड़ का रखा गया है I

इस योजना में आने वाले प्रमुख क्षेत्र एडवांस केमिस्ट्री सेल बैटरी, इलेक्ट्रॉनिक एंड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट, ऑटोमोबाइल और ऑटो कॉम्पोनेंट्स, फार्मास्यूटिकल ड्रग्स, टेलीकॉम एंड नेटवर्किंग प्रोडक्ट, टेक्सटाइल उत्पाद, फूड प्रोडक्ट्स, सोलर पीवी माड्यूल, व्हाइट गुड्स, स्पेशलिटी स्टील आदि के उत्पादन के लिए इसकी घोषणा की थी I

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना का शुभारंभ

भारत देश को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना जिसे पीएलआई योजना के नाम से भी जाना जाता है, इसे 11 नवंबर 2020 को इसकी केंद्र सरकार के द्वारा घोषणा की गई थी I

जिसके अंतर्गत घरेलू विनिर्माण उत्पादन को और निर्यात को बेहतर बनाने में योजना कारगर साबित होगी I

इस योजना के माध्यम से बेरोजगारी दर में भी गिरावट आएगी और रोजगार के नए नए साधन उत्पन्न हो सकेंगे I इस योजना में सरकार के द्वारा ₹145980 खर्च किए जाएंगे I

जोकि आत्मनिर्भर भारत अभियान को बढ़ावा देगी जिससे कि उत्पादन में बढ़ोतरी मिलेगी और योजना के अंतर्गत 25 फ़ीसदी कॉरपोरेट टैक्स रेट में भी कटौती की जाएगी I

जिससे कि यह योजना को सफल करके देश को आत्मनिर्भर बनाया जा सके I

इन्हे भी पड़े –

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की जानकारी (Yojana Highlights)

योजना का नामउत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना
किसके द्वारा लांचभारत सरकार
योजना के लाभार्थीदेश का नागरिक
योजना का उद्देश्यघरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देना I
शुरुआत वर्ष2021
योजना का कुल बजट दो लाख करोड़
योजना के अंतर्गत आने वाले कुल सेक्टर10
लक्ष्यघरेलु उत्पादों को बदावन देना
official websitehttps://plimofpi.ifciltd.com/

PLI योजना का बजट

केंद्र सरकार के द्वारा शुरू की गई प्रोडक्शन लिविंग इंसेंटिव योजना के अंतर्गत सरकार के द्वारा कुल 10 प्रमुख क्षेत्रों को इस योजना के अंतर्गत शामिल किए गए हैं I इस योजना का बजट सरकार के द्वारा कुल ₹200000 का रखा गया है I

इस योजना में आने वाले प्रमुख क्षेत्र एडवांस केमिस्ट्री सेल बैटरी, इलेक्ट्रॉनिक एंड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट, ऑटोमोबाइल और ऑटो कॉम्पोनेंट्स, फार्मास्यूटिकल ड्रग्स, टेलीकॉम एंड नेटवर्किंग प्रोडक्ट, टेक्सटाइल उत्पाद, फूड प्रोडक्ट्स, सोलर पीवी माड्यूल, व्हाइट गुड्स, स्पेशलिटी स्टील आदि  है l

Scheme SectorBudget
एडवांस केमिस्ट्री सेल बैटरी18,100 करोड़ रुपये
इलेक्ट्रॉनिक एंड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट5000 करोड़ रुपये
ऑटोमोबाइल और ऑटो कॉम्पोनेंट्स57,042 करोड़ रुपये
फार्मास्यूटिकल ड्रग्स15000 करोड़ रुपये
टेलीकॉम एंड नेटवर्किंग प्रोडक्ट12,195 करोड़ रुपये
टेक्सटाइल उत्पाद10,683 करोड़ रुपये
फूड प्रोडक्ट्स10,900 करोड़ रुपये
सोलर पीवी माड्यूल4500 करोड़ रुपये
व्हाइट गुड्स6,238 करोड़ रुपये
स्पेशलिटी स्टील6,322 करोड़ रुपये

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के लाभ (Benifits)

  • ✔️ पीएलआई योजना के अंतर्गत घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा दिया जाएगा ।
  • ✔️ इस योजना के माध्यम से देश को आत्मनिर्भर की ओर अग्रसर किया जा सकेगा ।
  • ✔️ इस योजना के माध्यम से देश में उत्पादन बढ़ेगा और निर्यात में वृद्धि हो सकेगी ।
  • ✔️ इसी योजना के अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों में कारोबार को बढ़ाने के लिए सरकार के द्वारा अन्य वित्तीय राशि प्रदान की जाएगी ।
  • ✔️ इन समस्त छात्रों में प्रोडक्शन बढ़ने के साथ-साथ रोजगार के अवसर भी बढ़ पाएंगे जिससे कि विदेशी कंपनियां भी देश में इन्वेस्ट कर पाएगी I

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के उद्देश्य (Objective)

जैसे कि आप जानते हो किसी भी सफल देश के लिए वह देश देश में उत्पादन और निर्यात के आधार पर किसी भी देश की प्रगति के बारे में पता चलता है I हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा देश में विभिन्न क्षेत्रों में प्रोडक्शन लाइन को बढ़ाना और जिससे कि देश में प्रोडक्शन दर बढ़ने से निर्यात ज्यादा से ज्यादा हो सके I

इसके फलस्वरूप भारत देश की इकोनॉमी को उच्च स्तर तक ले जाने के उद्देश्य की पूर्ति के लिए इस उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना को शुरू किया गया है I जिससे कि भारत देश को आत्मनिर्भर बनाया जा सके I

इन्हे भी पड़े –

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की मुख्य विशेषताये (Main key Features)

यह योजना भारत सरकार के द्वारा चलाई गई एक कल्याणकारी योजना है, जिसकी कई विशेषताएं हैं जो कि इस प्रकार से है-

  • इस योजना के माध्यम से देश में घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा मिलेगा I
  • उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत अगले 5 सालों के लिए किसी योजना का कुल बजट ₹200000 रखा गया है I
  • इस योजना के अंतर्गत कुल 10 क्षेत्रों में इस योजना का लाभ पहुंचाया जाएगा I
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य बस यही है कि देश में उत्पादन बड़े जिससे कि आयात में कमी और निर्यात में बढ़ोतरी आ सके I
  • जिससे कि देश की इकोनॉमी को बेहतर बनाया जा सके I
  • पीएलआई योजना के माध्यम से देश में बेरोजगारी दर को भी कम किया जा सकेगा I
  • पीएलआई योजना का मुख्य उद्देश्य देश को आत्मनिर्भर बनाना है इसके अंतर्गत 25 फ़ीसदी कॉरपोरेट टैक्स रेट में भी छूट दी जाएगी I

पीएलाई योजना अंतर्गत सेक्टर की लिस्ट

अगर आप भी जानना चाहते हो कि इस PLI योजना के अंतर्गत भारत सरकार ने किन-किन क्षेत्रों को सम्मिलित किया है I तो नीचे हमने आपको भारत सरकार के द्वारा सम्मिलित किए गए निम्न 10 क्षेत्रो की सूची नीचे आपको बताई गई है ।

  1. एडवांस केमिकल सेल बैटरी
  2. इलेक्ट्रॉनिक एंड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट्स
  3. ऑटोमोबाइल और ऑटो कॉम्पोनेंट्स
  4. फार्मास्यूटिकल ड्रग्स
  5. टेलीकॉम एंड नेटवर्किंग प्रोडक्ट
  6. टेक्सटाइल उत्पादन
  7. फूड प्रोडक्ट्स
  8. सोलर पीवी माड्यूल
  9. व्हाइट गुड्स
  10. स्पेशलिटी स्टील

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना में आवेदन की प्रक्रिया (Registration Process)

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना भारत सरकार के द्वारा शुरू की गई एक बड़ा मेगा प्रोजेक्ट के अंतर्गत आती है I इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को इनडायरेक्टली रूप से इसका लाभ प्रदान होगा I

यदि आप सोच रहे हो कि इस योजना में आवेदन कैसे किया जाए तो हम आपको बता दें कि इस योजना में आपको किसी भी तरह से आवेदन करने की कोई भी आवश्यकता नहीं पड़ेगी I

इस योजना में सम्मिलित की गई क्षेत्रों में उत्पादन बढ़ने के साथ-साथ रोजगार के साधन भी बढ़ जाएंगे जिसका लाभ आपको आपके क्षेत्र के अंतर्गत प्रत्यक्ष रूप से दिख जाएगा I जिसमें कि आप अप्लाई कर के रोजगार के साधन हासिल कर सकोगे ।

इन्हे भी पड़े –

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना से जुड़े सवाल-जवाब

Q.1 पीएलआई योजना क्या है ?

Ans: केंद्र सरकार के द्वारा देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए इस योजना को शुरू किया गया है I

Q.2 पीएलआई योजना के लाभ क्या क्या है ?

Ans: इसके अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों मे प्रोडक्शन को बढ़ाना और निर्यात में बढ़ोतरी करना इस योजना का मुख्य उद्देश्य है, इस योजना के माध्यम से रोजगार के नए-नए साधन मिलेंगे जिससे कि बेरोजगारी दर में कमी और उत्पादन का निर्यात को बढ़ाया जा सकेगा I

Q.3 पीएलआई योजना की शुरुआत कब हुई ?

Ans: योजना की शुरुआत वर्ष 2020 में हुई थी I

Q.4 उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना का कुल बजट कितना रखा गया है ?

Ans: इस योजना का कुल बजट सरकार के द्वारा २ लाख करोड़ का रखा गया है I

Q.5 पीएलआई योजना में कितने सेक्टर को सम्मिलित किया गया है ?

Ans: इस योजना के अंतर्गत देश के कुल 10 सेक्टरों को इस योजना के अंतर्गत शामिल किया गया है I

Q.6 PLI का फुल फॉर्म क्या है ?

Ans: इसका पूरा नाम “production linked incentive scheme” है I

आशा है कि अब आप इस आर्टिकल के माध्यम से उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना से जुड़ी सभी जानकारी से अवगत हो चुके होंगे I

इसी प्रकार केंद्र सरकार के और भी अन्य लाभकारी और कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारे इस वेबसाइट को फॉलो करें I जिससे कि आप देश में आने वाली है समस्त योजनाओं की जानकारी से अपडेटेड रह सकोगे l

हेलो दोस्तों! में Mayur, [Pmmodischeme.com] का Author & Founder हूँ। में Computer Science (C.s) से ग्रेजुएट हूँ। मुझे इंडियन गवर्नमेंट के योजनाओ के बारे में जानकारी देना अच्छा लगता है। और में Blogging क्षेत्र में वर्ष 2018 से हूँ। इस ब्लॉग के माध्यम से आप सभी को सभी योजनाओ के बारे में जानकारी उपलब्ध कराना यही मेरा उद्देश्य है।

Leave a Comment