प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना क्या है ? 2021 | PM Poshan Shakti Nirman yojana | मिड डे मील योजना

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना: भारत देश में कुपोषण से लड़ने के लिए भारत सरकार इसके लिए कई प्रकार के जरूरी कदम उठा रही है I आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना से जुड़ी सभी जरूरी जानकारी आपको इस आर्टिकल के माध्यम से जानने को मिलेगी I

इस योजना के माध्यम से अगले 5 वर्षों तक देश के करोड़ों बच्चों को मुफ्त में भोजन दिया जाएगा I सरकार के मुताबिक देश के 11,20,000 से अधिक स्कूलों के करोड़ों विद्यार्थियों को दोपहर का भोजन का लाभ PM Poshan Shakti Nirman yojana के लाभ दिए जाने की प्रावधान रखा गया है I

इसके लिए सभी स्कूलो में छात्रों के लिए पोषण वाटिका (पोषण उद्यान) का भी निर्केंमाण किया जायेगा I

सरकार की इस योजना में मिड डे मील योजना को भी अब इसमें सम्मिलित कर लिया गया है I इस योजना को वर्ष 2026 तक संचालित किया जाएगा I

जिसमें 1.30 लाखों रुपए का खर्च केंद्र सरकार के द्वारा किया जाएगा I इस योजना के अंतर्गत कक्षा नर्सरी से लेकर कक्षा आठवीं तक बच्चों को एक समय का भोजन की सुविधा सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी I

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना क्या है ? (What is PM Poshan Shakti Nirman yojana ?)

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र जी मोदी जी के द्वारा देश में पढ़ रहे सरकारी स्कूल में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के बच्चों को उनके पोषण के लिए मुफ्त में भजन प्रदान करने की एक कल्याणकारी योजना प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना को शुरू किया गया है I

इस योजना के अंतर्गत देशभर के 11.8 करोड़ से अधिक सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को मिड डे मील की सुविधा इस योजना के माध्यम से दी जाएगी I

जिसे वर्ष 2026 तक संचालित किया जाएगा I इस योजना का कुल बजट सरकार के द्वारा 1,31,000 करोड़ का रखा गया है I

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना

इस योजना का फोकस पोषण युक्त भोजन उपलब्ध करवाने पर रहेगा I जिससे कि स्कूली छात्रों को सही पोषण मिलने से उनका सही तरीके से विकास होता रहे जिसके अंतर्गत देश के कुल 11.80 करोड बच्चों को इस योजना का लाभ दिया जायेगा I

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना का शुभारंभ

केंद्र सरकार की तरफ से पहले इस योजना को मध्यान भोजन योजना में भोजन के नाम से चलाया जा रहा था I अभी वर्तमान में केंद्र सरकार के द्वारा मिड डे मील योजना को पीएम पोषण योजना के अंतर्गत मिला दिया गया है I

इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा सितंबर 2021 को इसे लांच करने की अधिकारिक घोषणा की गई है I

इस योजना को 5 सालों तक चलाया जाएगा जिसमे 1.30 लाख करोड कि इस योजना में देश के कुल 11.20 लाख सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को दोपहर का भोजन मुफ्त में दिया जाएगा I

इस योजना में प्रत्येक दिन इन स्कूली बच्चों को मिलने वाले भोजन का मेनू अलग अलग रहेगा I जिससे कि स्कूल में बच्चों को सही तरीके से पोषण मिल पाए और वह अपने शरीर के विकास के साथ-साथ आगे बढ़ पाए I

इन्हें भी पड़े-

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना की जानकारी (Yojana Highlights)

योजना का नामप्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना
पूर्व नाममिड डे मील योजना
योजना की घोषणाकेंद्र सरकार
योजना का कुल बजट₹1,31,000 करोड़
उद्देश्यबच्चों को दोपहर का भोजन उपलब्ध करवाना
लाभार्थीदेश के सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले छात्र
योजना का क्रियान्वयन5 साल (वर्ष 2026) तक
लाभार्थी बच्चों की संख्या11.80 करोड़
किन स्कूलों को सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त
योजना की शुरुआत 29 सितंबर 202

पीएम पोषण शक्ति निर्माण योजना का कुल बजट

केंद्र सरकार के द्वारा संचालित की जाने वाली योजना प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना के माध्यम से देश के 11.80 लाख करोड़ स्कूल में पढ़ने वाले आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों के लिए केंद्र सरकार ने उन्हें दोपहर की भोजन के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है I

इस योजना को वर्ष 2026 तक चलाने के लिए केंद्र सरकार ने इसके लिए कुल 1.30 लाख करोड़ रुपए खर्च करने हेतु उसका बजट निर्धारित किया गया है i

जिसमें कक्षा नर्सरी से लेकर कक्षा आठवीं तक समस्त सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को मुफ्त में पोषण युक्त भोजन देने की सुविधा प्रदान करवाई जाएगी I

इस योजना पहले mid day yojana के नाम से संचालित हो रही थी जिसे अब pm poshan yojana के अंतर्गत मिला दिया गया है ।

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना के फायदे (Benifits)

केंद्र सरकार के द्वारा शुरू की गई पोषण शक्ति निर्माण योजना (PMPSY) के माध्यम से लाभार्थी को कई प्रकार के लाभ प्रदान किए जाएंगे इसकी जानकारी नीचे विस्तार पूर्वक दी गई है ।

  • ✔️ पीएम पोषण शक्ति योजना का लाभ देश में पढ़ने वाले समस्त बच्चों को दिया जाएगा I
  • ✔️ PM POSHAN SHAKTI YOJANA के अंतर्गत सरकारी कथा सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में पढ़ने वाले कक्षा नर्सरी से लेकर आठवीं तक के समस्त छात्रों को दोपहर का मुफ्त में पोषण युक्त भोजन देने की व्यवस्था इस योजना के माध्यम से की जाएगी I
  • ✔️ इस योजना में प्रतिदिन अलग-अलग पोषण युक्त भोजन बच्चों को मुहैया करवाया जाएगा I
  • ✔️ इस योजना के माध्यम से आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के परिवारों के बच्चों को सरकार के द्वारा पोषण युक्त भोजन की सुविधा दी जा सकेगी I
  • ✔️ जिससे कि इन बच्चों को सही पोषण मिलने के साथ-साथ उनके मानसिक और शारीरिक विकास सही ढंग से हो सकेगा I

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना के उद्देश्य (Objective)

हमारे देश में ऐसे कई परिवार है जिनके माता-पिता आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण अपने अपने बच्चों को सही ढंग से पोषण के जैसा नहीं दे पाते हैं जिसके कारण पोषण की कमी के अभाव में इन स्कूल पढ़ने वाले बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास पर काफी ज्यादा असर पड़ता है I

जिससे कि वह शिक्षा में पिछड़ कर अपने जीवन में उन्नति नहीं कर पाते हैं I जिससे कि इन बच्चों को स्कूली शिक्षा से किसी भी प्रकार का लाभ नहीं मिल पाता है I

इसी समस्या को देखते हुए केंद्र सरकार के द्वारा प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना को शुरू करने का फैसला लिया गया है I जिसके माध्यम से इन आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के बच्चों को दोपहर में पोषण युक्त भोजन प्रदान करवाया जाएगा I

जिससे कि भोजन के माध्यम से उन्हें पूर्ण रूप से पोषण मिल सकेगा I जिससे कि उनके मानसिक और शारीरिक रूप से हो पाएगा I

और वह अपने जीवन में उन्नति कर आगे बढ़ सकेंगे I इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री को शक्ति निर्माण योजना को शुरू करने का फैसला लिया है I

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना की पात्रता एवं मानदंड (Criteria & Eligibility)

प्रधानमंत्री के नेतृत्व में शुरू की गई इस योजना का लाभ पाने वाले छात्रों को निम्न पात्रता और मानदंड के अनुसार होना अनिवार्य है जो कि इस प्रकार से है-

  • इस योजना में ऐसे छात्रों को हि लाभ दिया जाएगा जो कि आर्थिक रूप से कमजोर परिवार से आते हो ।
  • इस योजना के माध्यम से दोपहर के भोजन की व्यवस्था सरकारी स्कूल और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों को ही दी जा सकेगी I
  • इस योजना में उन छात्रों को ही माध्यम भोजन दिया जाएगा जो कक्षा नर्सरी से लेकर कक्षा आठवीं के अंतर्गत आते हो I
  • किसी भी प्राइवेट स्कूलों के विद्यार्थियों को इस योजना की पात्रता नहीं दी जाएगी I

इन्हें भी पड़े-

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना में आवेदन की प्रक्रिया (Registration Process)

अगर आप भी सोच रहे हो कि प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना में आवेदन कैसे करें तो हम आपको बता दें कि इस योजना में आपको अपने बच्चों के लिए किसी भी प्रकार से आवेदन करने की आवश्यकता नहीं होगी I

क्योंकि यह योजना केंद्र सरकार के द्वारा सरकारी स्कूल में पढ़ रहे कक्षा नर्सरी से लेकर आठवीं तक समस्त विद्यार्थियों के लिए इसका लाभ दिया जाएगा I

बस इसके लिए बालक को सरकारी स्कूल के अंतर्गत आना चाहिए I इस योजना का लाभ केंद्र सरकार के द्वारा समस्त शासकीय स्कूलों को दिया जाएगा जिसमें कि सरकारी स्कूल के द्वारा इन बच्चों को प्रतिदिन दोपहर में मुफ्त में भोजन की व्यवस्था सरकार के द्वारा की जाएगी I

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना से जुड़े सवाल-जवाब

Q.1 मिड डे मील की शुरुआत किस राज्य से हुई ?

Ans: योजना की शुरुआत तमिल नाडु से की गई थी I

Q.2 मिड डे मील योजना कब प्रारंभ हुई ?

Ans: मिड डे मील योजना 1995 से यह पूरे देश में प्रारंभ की गई थी I

Q.3 मिड डे मील योजना तो आप किस नाम से जाना जाता है ?

Ans: इस योजना को प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना के नाम से जाना जाता है I

Q.4 प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना में किन बच्चों को मुफ्त में भोजन प्रदान किया जाएगा ?

Ans: इस योजना में सरकारी स्कूल में पढ़ रहे कक्षा नर्सरी से लेकर आठवीं तक के समस्त छात्रों को इस योजना के माध्यम से दोपहर का भोजन मुक्त में प्रदान करवाया जाएगा I

Q.5 पीएम पोषण योजना को कितने वर्षों के लिए शुरू किया गया है ?

Ans: इस योजना को 5 वर्ष यानी 2026 तक के लिए शुरू किया गया है I

Q.6 पीएम पोषण शक्ति निर्माण योजना में कितने छात्रों को इसका लाभ मिलेगा ?

Ans: इस योजना के अंतर्गत देश में पढ़ रहे कुल 11.80 करोड़ बच्चों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा I

Q.7 प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना के लिए सरकार ने कितना बजट पेश किया है ?

Ans: इस योजना का सफल क्रियान्वयन के लिए केंद्र सरकार के द्वारा 1.30 लाख करोड़ रूपये का बजट खर्च निर्धारित किया गया है I

Q.8 क्या प्राइवेट स्कूल के छात्रों को भी मध्यान भोजन की सुविधा दी जाएगी ?

Ans: बिल्कुल नहीं यह योजना सरकारी स्कूल में पढ़ रहे बच्चों को ही दी जाएगी I

Q.9 इस योजना में छात्रों को क्या प्रतिदिन अलग-अलग भोजन दिया जाएगा ?

Ans: हां बिल्कुल इस योजना के अनुसार प्रतिदिन भोजन मेनू के हिसाब से दिया जाएगा I

आशा है कि अब आप इस पोस्ट के माध्यम से केंद्र सरकार के द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना जिसे पहले मिड डे मील योजना या मध्यान्ह भोजन योजना के नाम से जाना जाता था I

इससे जुड़ी सभी प्रकार की आवश्यक जानकारी आपको इस पोस्ट के माध्यम से जानने को मिल गई होगी I अगर आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी से संतुष्ट हो तो इस पोस्ट को आप अपने मित्रों को शेयर करें जिससे कि इस योजना से जुड़ी सभी जानकारी ज्यादा लोगों तक पहुंच सके I

और इसी प्रकार केंद्र सरकार से जुड़ी और भी अन्य योजनाओं की जानकारी पाने के लिए आप हमारी इस वेबसाइट को फॉलो करें जिससे कि आप सरकार के द्वारा आने वाली सभी स्कीम से जुड़ी जानकारी से अपडेट हो सके I

हेलो दोस्तों! में Mayur, [Pmmodischeme.com] का Author & Founder हूँ। में Computer Science (C.s) से ग्रेजुएट हूँ। मुझे इंडियन गवर्नमेंट के योजनाओ के बारे में जानकारी देना अच्छा लगता है। और में Blogging क्षेत्र में वर्ष 2018 से हूँ। इस ब्लॉग के माध्यम से आप सभी को सभी योजनाओ के बारे में जानकारी उपलब्ध कराना यही मेरा उद्देश्य है।

Leave a Comment