भाग्यलक्ष्मी योजना यूपी 2021 UP Bhagya Laxmi Yojana | भाग्यलक्ष्मी परिणाम

उत्तर प्रदेश नई योजना | भाग्यलक्ष्मी योजना राजस्थान | कन्या जन्म योजना उत्तर प्रदेश | लाडली योजना फॉर्म | कन्या सुमंगला योजना | बाल विकास योजना उत्तर प्रदेश | UP Bhagya Laxmi In Hindi 

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना: आज हम उत्तरप्रदेश की महत्वपूर्ण योजना जिसे प्रदेश के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के बेटियों की लिए शुरू की गई यह अतिकल्याणकारी योजना है। जिसके अंतर्गत उप्र राज्य में जन्म लेने वाली बेटियों को जन्म से लेकर उसके 21 वर्ष के होने तक सरकार के द्वारा कुल 2 लाख रूपए की सहायता राशी प्रदान की जाएगी।

जिससे नारी सशक्तिकरण के उद्देश्य की पूर्ति हो सके।

आज इस पोस्ट के माध्यम से आपको मुख्य मंत्री श्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा UP Bhagya Laxmi Yojana से जुडी सभी महतवपूर्ण जानकरी आपको इस पोस्ट के माध्यम से उपलब्ध कराई जाएगी। जैसे इस योजना के लाभ, उद्देश्य, पात्रता एवं मानदंड आदि। प्रकार के जानकरी आपको इस पोस्ट के माध्यम से साझा होगी। कृपया इस पोस्ट के अंत तक पड़े।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना UP Bhagya Laxmi Yojana

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना 2021 क्या है?

UP Bhagya Laxmi Yojana यह प्रदेश की बालिकाओ के लिए शुरू की गई यह महत्वपूर्ण स्कीम है। इस योजना के अंतर्गत बच्ची के जन्म ले लेकर उसके विवाह तक की जिम्मेदारी सरकार की होती है।

जिससे की परिवार के लोगो को लड़की के प्रति चिंता मुक्त हो सके। इसके मिलने वाली कुल राशी 51,000/- रूपए तक की होती है। लड़की के 21 वर्ष के होने पर कुल 2 लाख की सहायता राशी इस योजना के माध्यम से प्रदान की जाएगी।

Note➡️ इस योजना का लाभ लेने के लिए परिवार के सदस्यों के द्वारा एक वर्ष के अंतर्गत इसका इसका पंजीयन करना महत्वपूर्ण है।

Basic Detail UP Bhagya Laxmi Yojana

योजना का नामयूपी भाग्यलक्ष्मी योजना
विभागमहिला एवं बाल विकास
Launch Byमुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ
सहायता राशी51,000/- Rs.
मुख्य उद्देश्यलड़कियों की संख्या में बढ़ोतरी कराना
लाभार्थीप्रदेश की लड़किया
official Sitemahilakalyan.up.nic.in

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 

उप्र भाग्य लक्ष्मी योजना के उद्देश्य

जैसे की आप सब जानते है की हमारे देश के बेटियों का पैदा होना एक समस्या माना जाता है। जिसके फलस्वरूप बेटियों के पैदा होने के पूर्व ही भ्रूण में उसकी हत्या कर दी जाती है। जिसके दुष्ट परिणाम लड़कियों के लिंगानुपात में काफी ज्यादा गिरावट आई है।

इस समस्या के निवारण हेतु सरकार ने उत्तर प्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना की शुरुआत की। इस योजना के अंतर्गत पैदा होने वाली लड़कियों को कुल 51,000/- रूपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

जिससे की देश में लड़कियों की संख्या में हो रही कमी को दूर किया जा सके। इस उद्देश्य की पूर्ती की लिए इस योजना का प्रांरभ किया।

UP Bhagya Laxmi Yojana के लाभ

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना के लाभ निम्न प्रकार से है।

  • ➡️ इस योजना का लाभ उन परिवारों को दिया जायेगा जो आर्थिक से सक्षम नहीं है।
  • ➡️ बेटी के जन्म के समय लाभार्थी महिलाओ के बैंक खाते में 51,000/- की सहायता राशी दी जाएगी।
  • ➡️ जैसे ही लड़की की उम्र 21 वर्ष हो जाती है। तब लड़की के माता पिता को 2 लाख रुपये की सहायता राशी प्रदान की जाएगी।
  • ➡️ फलस्वरूप लड़के और लड़कियों के लिंगानुपात सामान्य हो पाएंगे।
  • ➡️ लड़कियों के शिक्षा स्तर में बढ़ोतरी होगी।
  • ➡️ लड़कियों की बाल मजदूरी से छुटकारा मिलेगा।

इस योजना से जुडी और अधिक जानकरी के लिए कृपया इस पोस्ट के पूरा पड़े।

UP Jansunwai Portal 

उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना की पात्रता एवं (मानदंड)

हर किसी भी योजना की पात्रता एवं मानदंड होते है। जिसके माध्यम से लाभार्थी की लाभ मुहैया कराया जाता है। यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना के पात्रता और मानदंड निम्न प्रकार से है।

  • ➡️ इस योजना के लाभ केवल उत्तरप्रदेश के निवासी ल सकते है।
  • ➡️ एक परिवार में दो से ज्यादा लड़की के पैदा होने पर इसका लाभ नहीं दिया जाएगा।
  • ➡️ परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रुपये से कम होनी चाहिए।
  • ➡️ परिवार के पालको का शासकीय सेवा में होने पर इस योजना का पात्र नहीं होंगे।
  • ➡️ इस योजना में लाभ लेने के लिए जन्म से एक वर्ष के अंतर्गत पंजीयन करवाना अनिवार्य है।

UP Bhagya Laxmi Yojana के मुख्य दस्तावेज

इस योजना में पंजीयन करने से पूर्व आपके पास निम्न दस्तावेजों का होना अनिवार्य है।

मोबाइल नंबर
आय प्रमाण पत्र
जाति प्रमाण पत्र
निवास प्रमाण पत्र
पासपोर्ट साइज फोटो
बैंक अकाउंट पासबुक
बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
माता पिता का आधार कार्ड

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना

भाग्यलक्ष्मी योजना के लिए शर्तें एवं नियम

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको इन बातो के समझ लेना बहुत जरूरी है।

✔️ पालक अपनी बेटी का एडमिशन सरकारी के करवाना होगा।
✔️ किसी भी बेटी को बाल श्रम ( Child Labour) करवाते नहीं पाया जाना चाहिए।
✔️ बेटी का विवाह 18 वर्ष की कम उम्र में नहीं होना चाहिए।
✔️ बेटियों का जीवन बिमा करवाना अनिवर्य है।

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना के मुख्य बिंदु

  • योजना के माध्यम से प्रदेश की बेटियों के जन्म के दौरान 51,000/- रुपये की सहायता राशी प्रदान की जाती है।
  • जब बेटी कक्षा कक्षा 6 में पहुंचती है तो उसे 3000/- रुपये कक्षा 8 में 5000/- कक्षा 10 में 7000/- और कक्षा 12 में पहुंचती है तो उसे 8000/- की सहायता राशी दी जाएगी।
  • जैसे ही लड़की की आयु 21 वर्ष हो जाती है। विवाह के लिए 20000 रुपये की आर्थिक राशी दी जाएगी। जिससे की माता पिता को विवाह से सम्बंधित समस्या नहीं होगी।

एकमुश्त समाधान योजना

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना में ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

इस योजना में पंजीयन करने के लिए आपको निम्न प्रक्रिया का पालन करना होगा। जिसके बाद आप आसानी से इस में अपना पंजीयन दर्ज करा सकते है।

महिला एवं बाल विकास विभाग
  1. सबसे पहले आपको महिला एवं बाल विकास विभाग उप्र की आधिकारिक वेबसाइट को विजिट करे।
  2. होम पेज पर आने के बाद आप यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना हेतु Application फॉर्म की पीडीएफ फाइल डाउनलोड कर सके।
  3. इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकरी को भरे।
  4. इस फॉर्म में सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों की सलंग्न करे।
  5. इस फॉर्म की लेकर आप आपके नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र या अपने नज़दीकी महिला कल्याण विभाग के कार्यालय के फॉर्म को लेकर जमा करे।
  6. इस पारकर आपकी पंजीयन प्रक्रिया पूर्ण हो जाती है।
 Application Form PDF

Helpline Number

  • महिला पॉवरलाइन: 1090
  • महिला हेल्पलाइन: 181
  • चाइल्ड हेल्पलाइन:1098

वृद्धावस्था पेंशन योजना


F&Q About UP Bhagya Laxmi Yojana

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना में रजिस्ट्रेशन कैसे किया जाता है?

इस स्कीम में आपको रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको इस पोस्ट में बताई गई प्रक्रिया या आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से आप आसानी से इस योजना में अपना अपंजियन दर्ज करवा सकते हो।

Bhagya Laxmi Yojana का शुभारभ किसने किया?

इस योजना की शरुआत उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा किया गया।

इस योजना का लाभ किसे मिलेगा?

इसमें उत्तर प्रदेश के बेटियों को इस योजना के माध्यम से कुल 2 लाख रुपये की पात्रता प्रदान की जाएगी।

इस योजना में मिलने वाली राशी कितनी होगी?

इसके माध्यम से प्रदेश की बेटियों को मिलने वाली सहायता राशी 2 लाख रुपये तक की दी जाएगी।

भाग्यलक्ष्मी योजना में बेटियों को कितनी राशि मिलती है ?

२ लाख रुपये तक की राशि I

भाग्यलक्ष्मी परिणाम कैसे जाने ?

भाग्यलक्ष्मी परिणाम को जानने की लिए आपको (http://mahilakalyan.up.nic.in/) विजिट करना होगा I


अब आप UP Bhagya Laxmi Yojana के बारे में सम्पूर्ण जानकरी से परिचित हो गए होंगे। की इस योजना के लाभ और उद्देश्य सभी आवश्यक जानकरी आपको यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना के माध्यम से मिल गई होगी।

ऐसी में सरकारी योजना से जुडी अन्य जानकरी के लिए आप Pm Modi Scheme वेबसाइट को follow करे।

हेलो दोस्तों! में Mayur, [Pmmodischeme.com] का Author & Founder हूँ। में Computer Science (C.s) से ग्रेजुएट हूँ। मुझे इंडियन गवर्नमेंट के योजनाओ के बारे में जानकारी देना अच्छा लगता है। और में Blogging क्षेत्र में वर्ष 2018 से हूँ। इस ब्लॉग के माध्यम से आप सभी को सभी योजनाओ के बारे में जानकारी उपलब्ध कराना यही मेरा उद्देश्य है।

Leave a Comment