UP Jansunwai Portal | 2020 उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल Complaint Status, & [APP]

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री द्वारा योगी आदित्य नाथ जी UP Jansunwai Portal (उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल) को लांच किया गया। इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से राज्य के कोई भी व्यक्ति अपनी शिकायत के इस ऑनलाइन पोर्टल दर्ज कर सकते है। आपके द्वारा दर्ज की गई जानकरी को सम्बंधित विभाग के अधिकारियो द्वारा तय समय में समस्या का निवारण कर दिया जाता है।

इसे UP CM Portal के नाम से भी जाना जाता है। आप इस पोर्टल के ऑनलाइन एप के माध्यम से अपनी दर्ज की गई Complaint Status को भी आसानी से घर बैठे चेक कर सकते है।

आज इस पोस्ट में आपको इस ऑनलाइन पोर्टल jansunwai.up.nic.in का कैसे उपयोग करना है और इसमें कैसे पंजीयन करना है सब विस्तार से जान पाओगे।

 उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना 2020 

UP Jansunwai Portal

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल (IGRS) क्या है?

UP Jansunwai IGRS पोर्टल क्या है? इसमें हम अपना पंजीयन कैसे दर्ज कराये इस पोस्ट की हेल्प से हम आसानी से जान पाएंगे। इसमें पंजीयन करने के लिए हमें किन किन बातो का ध्यान रखना है और हम अपनी दर्ज की गई शिकायत का निराकरण कैसे पाएंगे। इस्पॉत के माध्यम से जानेंगे।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल की सामान्य जानकारी

योजनाउत्तर प्रदेश जनसुनवाई समाधान
मुख्य अध्यक्षश्री मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
उद्देश्यप्रदेश का विकास
स्थितिआरंभ है
विभागलोक शिकायत विभाग (UP)
लाभसमस्या समाधान
पंजीकरणऑनलाइन/फोन
वेबसाइटhttp://jansunwai.up.nic.in/

UP Jansunwai Govt ऑनलाइन पोर्टल के उद्देश्य

प्रदेश में कई ऐसे वर्ग है जिनकी शिकायत यही सुनी जाती है या बहुत की तो सुनने के बाद इनकी शिकायत पर कोई भी कार्यवाही नहीं की जाती है। इस समस्या को समस्या को ध्यान में रखकर उप्र सरकार इस ऑनलाइन जनसुनवाई -समाधान का गठन किया है।

जिसकी निगरानी स्वयं मुख्यमंत्री जी करते है। ताकि प्रदेश में कोई भी अछूता न रही। यही इस योजना का मुख्य उद्देश्य है।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल के फायदे

ऑनलाइन समाधान केंद्र की सहायता से प्रदेश के नागरिको निम् फायदे पहुंचेंगे। जिसकी लिस्ट निचे दी गई है।

  • समस्या का तुरंत समाधान मिलेगा।
  • तय समय सीमा के अंतर्गत निराकरण मिलेगा।
  • सरकार के प्रति भरोसा बढ़ेगा।
  • राज्य और देश के प्रगति होगी।
  • लोगो में जागरूकता बढ़ेगी।

यू पी Jansunwai ऑनलाइन Portal पर शिकायतों के प्रकार

UP Jansunwai ऑनलाइन Portal पर आपको तीन प्रकार की शिकायत का प्रकरण दर्ज करा सकते है। इसके अन्यथा आपकी शिकायत की सुनवाई नहीं होगी। निचे दिए लिस्ट में इस योजना की सुनवाई के बारे आपको बताया गया है

  1. किसी भी शासकीय योजनाओ के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते है
  2. जनसाधारण से जुडी किसी भी प्रकार की समस्या या शिकायते
  3. प्रदेश की जनता की मांगो से जुडी सम्बंधित शिकायते

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायते न स्वीकार की जाने वाली

अभी इस पोर्टल से स्वीकार की जाने वाली शिकायत पर चर्चा की थी। लेकिन कुछ ऐसे भी शिकायत है जिन्हे आप ऑनलाइन दर्ज नहीं करा सकते है। आईये जानते है स्वीकार न किये जाने वाली

सूचना के अधिकार सम्बंधित
मा० न्यायालय में विचाराधीन के सम्बन्ध में।
कोई सुझाव
आर्थिक सहायता की माँग
नौकरी दिए जाने की माँग
सरकारी सेवकों के स्थानांतरण के संदर्भ में

जनसुनवाई -समाधान पोर्टल के अन्य सेवाए

  • नागरिकों के लिए एंड्रॉइड एप्लिकेशन
  • अधिकारियों के लिए एंड्रॉइड एप्लिकेशन
  • एंटी भू-माफिया पोर्टल
  • एंटी करप्शन पोर्टल
  • मुख्यमंत्री अनुश्रवण प्रणाली

UP Jansunwai पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करे ?

इस पोर्टल में आपको शिकायत का का पंजीयन बड़ी ही आसानी से दर्ज करा सकते है। बस निचे दिए गए प्रक्रिया का पालन करके आप आसानी से अपनी कोई भी समस्या को दर्ज करा सकते है।

► सबसे पहले आपको जनसुनवाई पोर्टल पर आना होगा।

Register process step 1

►होने पेज पर आने के बाद आपको शिकायत पंजीकरण (संबंधित विभागों एवं अधिकारियों से सीधे संपर्क करें) के बटन के क्लिक करना होगा।
►इसके बाद आपको पॉपअप संदेश देदिखाई देगा। इसमें (मैं सहमत हूँ पर टिक करने के बाद) सबमिट करे।

Register process step 2

अब आपको अपना मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और कैप्चा को भर कर पहले आप इसमें रजिस्टर कर ले।
OTP डालने के बाद आपकी लॉगिन प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद आप

Register process step 3
►जनसुनवाई के आवेदन फॉर्म दिखाई देगा।
►सारी जानकारी सही तरीके से भरने के बाद आप सबमिट बटन पर क्लिक कर दे।
►आपकी शिकायत दर्ज हो जाने के बाद आपको एक पंजीयन नंबर मिलेगा जिसे आपको संभाल के रखना है।

 मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 2020

Jansunwai Portal पर Complaint की स्थिति (Status) कैसे जाँचे?

Track Complaint Status

► सबसे पहले आपको UP Jansunwai पोर्टल पर आना होगा।
►होने पेज पर आने के बाद आपको शिकायत की स्थिति (कार्यवाही का विवरण मोबाइल/ ई-मेल के माध्यम से जानें) के बटन के क्लिक करना होगा।
► फॉर्म में आप शिकायत संख्या, मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी, बॉक्स में उपलब्ध सुरक्षा कोड अंकित करें इसके बाद आप सबमिट का बटन पर क्लिक करे।
►इस तरह आप अपनी शिकायत को देख सकते है।

Jansunwai Portal पर अनुस्मारक (Reminder) कैसे भेजे?

अगर आपके द्वारा दर्ज की गई शिकायत की अभी तक कोई भी कार्यवाही नहीं की गई है तो पुनः इस पोर्टल के माध्यम से रिमाइंडर भेज सकते है जिसकी प्रक्रिया इस प्रकार है।
► सबसे पहले आपको जनसुनवाई पोर्टल पर आना होगा।
►होने पेज पर आने के बाद आपको Send Reminder/रिमाइंडर भेजे के बटन के क्लिक करना होगा।
► इसके बाद जानकारी भरने के बाद आप मुख्यमंत्री को अनुस्मारक भेज सकते है।

उप्र जनसुनवाई -समाधान एंड्रॉइड एप्लिकेशन Jansunwai Mobile App Download

Jansunwai Mobile App

निचे बताये गए सरल तरीके को अपना कर आप आसानी से उप्र जनसुनवाई मोबाइल एप्लीकेशन को डाउनलोड कर सकते है।
1. प्ले स्टोर पर आए के बाद आप Jansunwai Mobile App लिखकर सर्च करे।
2. इसके बाद इसे इंस्टाल कर ले।
3. इंस्टाल प्रक्रिया पूर्ण हो जाने के बाद आप सेवाओं का मोबाइल एप की सहायता से ले सकते है

F&Q About UP Jansunwai Portal

जनसुनवाई शिकायत कैसे रद्द करें?

इसमें आप अपनी समस्या को सोच समझ कर दर्ज करे। क्योकि एक बार समस्या दर्ज हो जाने के बाद इसे रद्द करना मुश्किल है।

मैं अपनी जनसुनवाई की स्थिति की जांच कैसे कर सकता हूं?

http://jansunwai.up.nic.in पर जाएं।
“ट्रैक शिकायत” विकल्प पर क्लिक करें।
अब आवेदकों को सभी आवश्यक विवरण दर्ज करना होगा। इनमें शिकायत संख्या, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और अन्य विवरण शामिल हैं। …
आवेदक “सबमिट” विकल्प पर क्लिक करने के बाद आवेदन की स्थिति प्रदर्शित करेगा।

UP सीएम हेल्प लाइन नं क्या है?

181 tollfree helpline number.

जनसुनवाई क्या है?

यह राज्य की जनता के समाधान के लिए एक ऑनलाइन वेब पोर्टल है। इसकी सहायता से आप अपनी समस्या को दर्ज करके इसका समाधान पा सकते है।

जनसुनवाई पर दर्ज की गई शिकायत का निवारण कब होगा?

आप दिए गए तय समय सीम के अंतर्गत आपकी दर्ज की गई समस्या के हल अधिकारियो द्वारा कर दिया जाता है।

संदर्भ संख्या क्या है?

एक संदर्भ सं। अद्वितीय चौदह अंक है। ऑनलाइन प्रणाली द्वारा आवेदकों को जारी किया गया। यह एक महत्वपूर्ण नहीं है। और नागरिकों को इसे सुरक्षित रखना आवश्यक है।

यह IGRS UP सिस्टम कब शुरू किया गया था?

2016.

आशा है की आप UP Jansunwai Portal के बारे में पूरी तरह से जान गए। की इस योजना में कैसे अपना प्रकरण दर्ज करते है। और किसे अपना स्टेटस की जाँच कर सकते है। और भी बहुत सारे मुख्य बिंदु के बारे में हमने चर्चा की है।

आप किसी भी शिकायत को इस पोर्टल के माध्यम से दर्ज करने में सक्षम हो गए होंगे। और अधिक जानकारी के लिए आप उप्र की ऑफिसियल साइट को विजिट करके जानकारी ले सकते है।
धन्यवाद !

हेलो दोस्तों! में Mayur, [Pmmodischeme.com] का Author & Founder हूँ। में Computer Science (C.s) से ग्रेजुएट हूँ। मुझे इंडियन गवर्नमेंट के योजनाओ के बारे में जानकारी देना अच्छा लगता है। और में Blogging क्षेत्र में वर्ष 2018 से हूँ। इस ब्लॉग के माध्यम से आप सभी को सभी योजनाओ के बारे में जानकारी उपलब्ध कराना यही मेरा उद्देश्य है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *